कोल्हू का बैल मुहावरे का क्या अर्थ है? / Kolhoo Ka Bail Muhavara Meaning in Hindi.

कोल्हू का बैल मुहावरे का क्या अर्थ है? / Kolhoo Ka Bail Muhavara Meaning in Hindi.

मुहावरा - "कोल्हू का बैल"।

“कोल्हू का बैल” मुहावरे का व्याख्या-

“कोल्हू का बैल” यह दैनिक दिनचर्या मे अत्यधिक उपयोग होने वाला मुहावारा है। जब कोई भी व्यक्ति अत्यधिक या यूं कहे तो दिन रात काम करता है, तो वह “कोल्हू का बैल” बन जाता है।

वाक्य प्रयोग- अशोक नगर के ग्राम प्रधान अपने ग्रामसभा को सुधारने (शिक्षा-व्यवस्था, साफ-सफाई, लोगों मे जागरूकता, रोजगार) के लिए “कोल्हू के बैल” की तरह काम करते है। दूसरे शब्दों मे कहे तो ग्राम प्रधान जी अपने ग्रामसभा के अच्छे भविष्य के लिए निरंतर काम मे लगे रहते है।

Kolhoo ka Bail Hona Muhavare ka Arth / कोल्हू का बैल होना मुहावरे का अर्थ।

  • मुहावरा – “कोल्हू का बैल”।
    – (Muhavara- “Kolhoo ka Bail”)
  • हिंदी मे अर्थ – कठिन परिश्रम करने वाला / दिन रात काम करने वाला / निरंतर काम मे लगे रहना / एक ही काम के लिए बार बार चक्कर काटना।
    – (Meaning in Hindi – Kathin Parishram Karne Wala / Din Raat Kaam Karne Wala / Nirantar Kaam me Lage Rahna / Ek hi Kary ke Liye Baar Baar Chakkar Katna)

“कोल्हू का बैल” मुहावरे का वाक्य प्रयोग / Kolhoo Ka Bail Muhavare ka Vaky Prayog.

इस मुहावरे “कोल्हू का बैल” का व्याख्या/अर्थ नीचे उदाहरण देकर समझाया जा रहा है। इन उदाहरणों को ध्यानपूर्वक पढ़िए और समझिए-

उदाहरण 1.

रजत अब बड़ा हो गया था। रजत के बढ़ने के साथ साथ उसकी इच्छाये भी बढ़ने लगी थी। उसको हर महीने कुछ ना कुछ महंगी (expensive) बस्तुए चाहिए। रजत के इन्ही इच्छाओ की पूर्ति करने के लिए रजत के माता-पिता दिन रात काम मे लगे रहते थे। रजत के माता-पिता का यही कठिन परिश्रम उनके लिए “बैल के कोल्हू” के समान है।

उदाहरण 2.

रामू के परिवार मे कुल सदस्यों (member) की संख्या 13 (thirteen) है। रामू के अलावा परिवार का कोई भी सदस्य काम (work) नही करता है। अब परिवार को चलाने की जिम्मेदारी अकेले रामू है। अपने इसी ज़िम्मेदारी को निभाने के लिए रामू कठिन परिश्रम करने लग जाता है। अब रामू दिन रात काम करता है जिससे की उसके परिवार का पेट भर सके। रामू का यही दिन रात काम करना उसको “कोल्हू का बैल” बना दिया।

उदाहरण 3.

रुबीना कक्षा दसवीं की छात्रा है। वह पढ़ने (study) मे ज्यादा होशियार (smart) तो नही लेकिन ठीक ठाक है। उसे डर है की कही वह परीक्षा मे असफल (fail) ना हो जाये। रुबीना के अध्यापक (teacher) भी उसको हमेशा यही समझाते की और मेहनत करो वरना तुम परीक्षा मे असफल हो जाओगी। रुबीना की परीक्षा नजदीक आगयी। रुबीना को अपने अध्यापको की कही हुयी बातें याद आने लगी, की वह मेहनत नही करेगी तो असफल हो जाएगी। अपने दसवीं की परीक्षा मे अच्छे अंको (numbers) से पास होने के लिए रुबीना अब दिन रात एक कर दी। वह निरंतर अपने विषयो का अभ्यास (revise) करने लगी। रुबीना की इसी मेहनत को देख कर सब लोग कहने लगे की ये तो “कोल्हू का बैल” के समान पढ़ाई करने लगी।

उदाहरण 4.

मानव को कही अच्छी नौकरी नही मिल रही थी। वह नौरकी की तलाश मे निरंतर (continue) लगा रहता था। मानव सुबह (morning) जल्दी निकलता था और देर रात तक घर वापस आता था। मानव एक ही काम के लिए (अपनी नौकरी के लिए) हर रोज दफ्तरों (office) का चक्कर लगाता रहता था। उसका यही परिश्रम (hard work) देख कर सब लोग बोलते की जब देखो तब मानव मेहनत करता रहता है, वह तो “कोल्हू के बैल” के समान कार्य करता रहता है।

उदाहरण 5.

गौरी अपने बच्चे को पालने के लिए कोल्हू के बैल के समान काम करती रहती है। जब गौरी गर्भवस्था (pregnant) मे थी तभी किसी कारण वस उसके पति का देहांत (death) हो गया था। तब से वह अकेले ही रहती है । बच्चा होने के बाद उसके पालने की ज़िम्मेदारी भी गौरी की ही थी। वह अपने बच्चे के भविष्य (future) के लिए दिन रात मेहनत करती है । काम के समय गौरी अपने बच्चे को साथ रखती थी। वह लगातार काम मे लगी रहती है। गौरी का अपने बच्चे के लिए दिन रात काम करना “कोल्हू का बैल” जैसे काम करने जैसा है ।

हम आशा करते है कि आपको इस मुहावरे “कोल्हू का बैल” का अर्थ अच्छे से समझ मे आगया होगा। अपना कोई भी सुझाव हमसे साझा करने के लिए नीचे कमेंट बॉक्स मे अपने सुझाव लिखें । आपका हमारे पोस्ट पर आने के लिए बहोत बहोत … … धन्यवाद! 

 

Read More … …

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here