खून पसीना एक करना मुहावरे का क्या अर्थ होता है? / Khoon Paseena Ek Karana Muhavara Meaning in Hindi.

Khoon Paseena Ek Karana Muhavare Ka Meaning in Hindi / खून पसीना एक करना मुहावरे का अर्थ।

मुहावरा - "खून पसीना एक करना"।

“खून पसीना एक करना” मुहावरे का व्याख्या-

“खून पसीना एक करना” यह वर्तमान युग मे अत्यधिक उपयोग होने वाला मुहावारा है। इसका अर्थ बहोत मेहनत करना या बहोत संघर्ष करना होता है।

व्याख्या- भावना एक छात्रा है। उसका इम्तेहान आने वाला है। वह उस इम्तेहान मे अच्छे अंको से पास होना चाहती है। इसलिए उसने कठिन परिश्रम किया या यूं कहे की भावना ने बहोत मेहनत किया। भावना का इम्तेहान के लिए खूब मेहनत करना ही “खून पसीना एक करना” कहलाता है।

Khoon Paseena Ek Karana Muhavare Ka arth / खून पसीना एक करना मुहावरे का अर्थ।

  • मुहावरा – “खून पसीना एक करना”।
    -(Muhavara – Khoon Paseena Ek Karana).
  • हिंदी में अर्थ – कठिन परिश्रम करना / बहोत मेहनत करना / अत्यधिक संघर्ष करना / दिन रात मेहनत करना।
    – (Meaning in Hindi – Kathin Parishram Karana / Bahot Mehanat Karana / Atyadhik Sangharsh Karana / Din Raat Mehanat Karana).

“खून पसीना एक करना” मुहावरे का वाक्य प्रयोग / Khoon Paseena Ek Karana Muhavare Ka Vaky Prayog.

“खून पसीना एक करना” इस मुहावारे का अर्थ नीचे वाक्य प्रयोग करके उदाहरण के रुप मे समझाया जा रहा है। इसे ध्यानपूर्वक पढ़िये।

उदाहरण-1.

विरभद्र प्रताप जी एक बहोत बड़े कारोबारी थे। उनके कारोबार के वजह से ही उनका नाम पूरे शहर मे मशहूर था। विरभद्र जी के दो बेटे थे। दोनो बहोत ही संस्कारी और मेहनती थे। विरभद्र जी अपने करोबार अपने दोनो बेटों को सौप दिये। ताकि वो दोनो अपने मेहनत से करोबार को और बढ़ाये। और हुआ भी ऐसा ही। दोनो भाइयो ने करोबार को बढ़ाने के लिए “खून पसीना एक कर दिया”। जिससे की उनका कारोबार पहले से ज्यादा बढ़ गया। विरभद्र जी अपने बेटों का ये कठिन परिश्रम और उनका मेहनत देखकर बहोत उत्साहित थे। दोनो भाइयो का ये कठिन परिश्रम ही “खून पसीना एक करना” कहलाता है ।

उदाहरण-2.

लखन नाम का एक मजदूर मजदूरी करके अपने परिवार का पेट पालता था। सोनी नाम की उसकी एक एकलौती लड़की थी। सोनी पढ़ने मे बहोत होशियार थी। उसकी प्राइमरी की पढ़ाई पुरी हो चुकी थी। सोनी अभी और पढ़ना चाहती थी। पर लखन का इतना सामर्थ नही था की वो सोनी का दाखिला कान्वेंट स्कूल मे करा सके। पर सोनी के ज़िद्द के आगे लखन मान गया। अपनी एकलौती बेटी के भविष्य के लिए लखन ने “खून पसीना एक कर दिया”। अपनी बेटी की पढ़ाई के लिये लखन का यही दिन रात और अत्यधिक परिश्रम करना ही “खून पसीना एक करना” कहलाता है।

उदाहरण-3.

एक गाँव मे दंगल प्रतियोगिता शुरु होने वाली थी। जिसमे दूर दूर से पहलवान आकर प्रतियोगिता मे हिस्सा लेने के लिये अपना नामांकन करवा रहे थे। उसी गाँव मे भीमा नामक एक पहलवान रहता था। भीमा भी दंगल मे भाग लेने के लिये नामांकन करवाने पहुचा। भीमा को देख कर अन्य सभी पहलवान हसने लगे। अन्य पहलवानो के अपेक्षा भीमा देखने मे पतला और छोटा था। अपने समय पर प्रतियोगिता शुरु हो गयी थी। भीमा अपना पहला दंगल हार गया। फिर उसने प्रतियोगिता जितने के लिये अपना “खून पसीना एक कर दिया”। और वह सबको चौकाते हुए अपने आगे के सारे दंगल जीत गया। और दंगल प्रतियोगिता का इनाम भी। भीमा का दंगल प्रतियोगिता जितने के लिये उसका कठिन परिश्रम करना ही “खून पसीना एक करना” कहलाता है।

उदाहरण -4.

राजेश बहोत मेहनती और ईमानदार आदमी था। वह किसी भी काम को करने मे अपना जी जान लगा देता था। राजेश को एक छोटी सी कम्पनी मे काम मिल जाता है। वहा पर राजेश बहोत मेहनत करता था। उस कम्पनी के मालिक ने राजेश का मेहनत देख कर कम्पनी को आगे बढ़ाने की ज़िम्मेदारी उसे दे दी। राजेश उस कम्पनी को आगे बढ़ाने के लिये “खून पसीना एक कर दिया”। कम्पनी का करोबार बढ़ता देख उस कम्पनी का मालिक राजेश को उसका मालिक बना दिया। राजेश ने उस कम्पनी को बड़ा बनाने के लिये दिन रात एक कर दिया था। कम्पनी का कारोबार आगे बढ़ाने के लिये राजेश द्वारा किया गया कठिन परिश्रम ही “खून पसीना एक करना” कहलाता है।

हम उम्मीद करते है कि इस मुहावरे का अर्थ आपको समझ मे आगया होगा। फिर भी आपको समझाने मे कोई कमी रह गयी हो तो हमे अपने सुझाव नीचे कमेंट बॉक्स मे लिखे।

… … धन्यवाद !

 

Read More … …

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here